About us

राष्ट्रीय व्यवहार में हिन्दी को काम में लाना देश की उन्नति के लिए आवश्यक है

        महात्मा गांधी

 हिन्दी विश्व की एक प्रमुख भाषा है एवं भारत की राजभाषा है। हिन्दी संवैधानिक रूप से भारत की सबसे अधिक बोली और समझी जाने वाली भाषा है। चीनी के बाद यह विश्व में सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा भी है। 

हिन्दी और इसकी बोलियाँ सम्पूर्ण भारत के विविध राज्यों में बोली जाती हैं। भारत और अन्य देशों में भी लोग हिन्दी बोलते, पढ़ते और लिखते हैं। फ़िजी, मॉरिशस, गयाना, सूरीनाम, नेपाल और संयुक्त अरब अमीरात की जनता भी हिन्दी बोलती है।रवरी २०१९ में अबू धाबी में हिन्दी को न्यायालय की तीसरी भाषा के रूप में मान्यता मिली।

2011 में 57.1% भारतीय आबादी हिन्दी को जानती है इसके अलावा अन्य देशों में १४ करोड़ १० लाख लोगों द्वारा बोली जाने वाली उर्दू, मौखिक रूप से हिन्दी के काफी समान है।    

हिन्दी भारत में संपर्क भाषा का कार्य करती है और कुछ हद तक पूरे भारत में आमतौर पर एक सरल रूप में समझी जानेवाली भाषा है।

लेकिन कई वर्षों से अंग्रेजी माध्यम की शिक्षा प्रणाली में बच्चों के लिए सभी ज्ञान और विज्ञान की जानकारी अंग्रेजी माध्यम में लिखी हुई है, और हाल के दिनों में विश्व स्तर पर सारे लोग ज्ञान प्रदान के लिए अंग्रेजी का बहुत उपयोग कर रहे हैं ।

इंटरनेट के मायाजाल  में ज्ञान, विज्ञान, साहित्य और कई ज्ञान शाखाओं, उसमे इंग्रजी भाषा में विशाल भंडार उपलब्ध है और ऐसा ज्ञान हिंदी भाषा में बहुत काम है।

कंप्यूटर, इंटरनेट, मशीन लर्निंग, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, नैनो टेक्नोलॉजी, स्पेस टेक्नोलॉजी ऐसे ज्ञान के बिना, आप भविष्य में आर्थिक रूप से मजबूत नहीं हो  सकते और आप इस तरह की प्रतिस्पर्धी और तकनीकी दुनिया में टिक नहीं पाएंगे। 

इसके अलावा, चिकित्सा, कृषि, शिक्षा, अर्थव्यवस्था, खेल, रोजगार, पर्यटन, आदि में  जो प्रगति हुई हैं  वह सायन्स और टेक्नोलॉजी  के कारण हुई है। दुनिया भर में हर क्षेत्र में भारी अनुसंधान किया जा रहा है। अनुसंधान इतनी तेजी से बदल रहा है कि हमारे जीवन अधिक सहने योग्य होते जा रहे हैं। लेकिन ये बदलाव हम तक नहीं पहुँच पाता है। 

इंटरनेट एक जानकारी का बड़ा स्रोत है और आप वेबसाइटों के माध्यम से इस तरह के बदलाव देख सकते हैं। लेकिन बहुत सारी जानकारी अंग्रेजी में है। इसलिये बहुत सारे हिंदी भाषिक लोगों तक  जानकारी पहुंच नही पाती । 

इसलिये जो प्रौद्योगिकी में बदलाव, नई तकनीकों के बारे में जानकारी,घटनाओं के बारे में जानकारी  देणे के लिये  the-hindi.com विकसित किया हैं। ये वेबसाइट के माध्यम से नई जानकारी का प्रदान करने का प्रयास करेंगे।

वेबसाइट दुनिया का एक ऐसा साधन हैं जो किसी भी जानकारी को तुरंत वितरित कर सकता हैं। समाचार पत्र, रेडियो, टी.वी. चैनल में इन माध्यमों की तुलना में वेबसाइट की जानकारी संग्रहीत करने की अधिक क्षमता होती है। अन्य माध्यमों जैसे ऑडियो और वीडियो को जोड़कर सूचना को अधिक कुशलता से प्रस्तुत किया जा सकता है। साथ ही इसमें  से कोई भी जानकारी  आप ढूंढ सकते है। 

इसलिए इस ब्लॉग पोर्टल को शुरू करने के पीछे का विचार यह है कि हिंदी  छात्रों, महिलाओं और सभी हिंदी  भाषियों को इंटरनेट के माध्यम से ज्ञान प्राप्त करना चाहिए और इसे व्यक्त होना चाहिए। इसीलिए the-hindi.com आपके लिए यह मंच प्रस्तुत कर रहा है।